10th Main Kitne Percentage Chahie Pass Hone Ke Liye

10th Main Kitne Percentage Chahie Pass Hone Ke Liye दसवीं में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए?

10th Main Kitne Percentage Chahie Pass Hone Ke Liye: यदि आप भी कक्षा 10वीं या 12वीं में पढ़ाई कर रहे हैं और परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो इस लेख में हम आपको जानकारी देने वाले हैं कि 10th Mein Kitne Percentage Chahie Pass Hone Ke Liye 10वीं में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए? दोस्तों जैसे जैसे बोर्ड परीक्षा नजदीक आती है वैसे ही हमारे दिमाग में सवाल आता है कि 10th पास करने के लिए कितने नंबर लाने होंगे? बहुत सारे स्टूडेंट ऐसे हैं जिन्हें 10वीं और 12वीं में पास होने के लिए कितनी अंक चाहिए, इसके बारे में पूरी जानकारी नहीं होती है। तो पूरी जानकारी हासिल करने के लिए इस लेख को पूरा जरूर पढ़ें।

10th Main Kitne Percentage Chahie Pass Hone Ke Liye
10th Main Kitne Percentage Chahie Pass Hone Ke Liye

10th में पास होने के लिए कितने अंक चाहिए?

छात्रों को मिनिमम 100 अंक में से 33% अंक पास होने के लिए लाना जरूरी होता है। सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड में कुछ सब्जेक्ट ऐसे होते हैं जिनमें बोर्ड की परीक्षा 70 अंकों की होती है, और कुछ सब्जेक्ट ऐसे होते हैं जिनमें बोर्ड की परीक्षा 80 अंकों की होती है। जिसमें 70 अंकों वाले सब्जेक्ट में छात्रों को कम से कम 23 अंक लाने जरूरी होता है और 80 अंक वाले सब्जेक्ट में छात्रों को 26 अंक लाने जरूरी होते हैं। कुछ सब्जेक्ट्स में 60 अंकों में से 19 अंक लाने जरूरी होते हैं और कुछ भी सब्जेक्ट के शिक्षा 30 अंकों की होती है, जिसमें 9 नंबर लाने जरूरी होते हैं।

अगर आप इन नंबरों में से कम नंबर लाते हैं तो आपको बोर्ड की तरफ से कंपार्टमेंट दे दी जाती है और उसे सब्जेक्ट की परीक्षा दोबारा देनी पड़ती है।

यूपी बोर्ड में  हाई स्कूल में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए?

यूपी बोर्ड परीक्षा में पास होने के लिए कम से कम 33% अंक प्राप्त करना जरूरी होता है। दसवीं कक्षा के लिए, यूपी बोर्ड उतार अंक सभी श्रेणियों के लिए समान होता है, जिसका अर्थ है कि छात्रों को न्यूनतम 33% अंक प्राप्त करना होगा।

यूपी बोर्ड में 12वीं कक्षा के छात्रों को पास होने के लिए 100 अंकों में से कम से कम 33% अंक चाहिए होते हैं। यदि किसी छात्र को इस से कम अंक प्राप्त होते हैं, तो उसे कंपार्टमेंट दिया जाता है, और उसे उस सब्जेक्ट की परीक्षा फिर से देनी पड़ती है। सभी परीक्षाओं के लिए यूपी बोर्ड में पासिंग नंबर 33% होता है।

स्टेट बोर्ड थ्योरी और प्रैक्टिकल परीक्षा के लिए यूपी बोर्ड अलग-अलग ग्रेडिंग सिस्टम का उपयोग करता है, और कक्षा 10 के लिए रिजल्ट तैयार करता है। छात्र नीचे दी गई तालिका में अपने संदर्भ के लिए ग्रेडिंग सिस्टम देख सकते हैं।

यूपी बोर्ड में यह पैटर्न पहले नहीं था, लेकिन कुछ नियमों में बदलाव के बाद यह नियम लागू किया गया है। पहले, यदि किसी परीक्षार्थी को 33% से कम अंक प्राप्त होते थे, तो उसे फेल कर दिया जाता था, और उसे दोबारा परीक्षा देने का मौका नहीं मिलता था, जिससे उसे कक्षा फिर से दोहरानी पड़ती थी।

यूपी बोर्ड 12th पासिंग मार्क्स

यूपी बोर्ड में 12वीं की परीक्षा में पास होने के लिए छात्रों को 33 फ़ीसदी अंक हासिल करना जरूरी होता है। यूपी बोर्ड की 12वीं की परीक्षा में पासिंग मार्क्स 33% होते हैं।

यदि कोई छात्र दो विषयों में 33 फीसदी अंक हासिल नहीं कर पाता है, तो उसे कंपार्टमेंट परीक्षा में भाग लेने का मौका मिलता है। और अगर कोई छात्र दो से अधिक विषयों में 33% अंक हासिल नहीं कर पाता है, तो उसे फेल माना जाता है।

एमपी बोर्ड 10वीं कक्षा पासिंग मार्क्स:

एमपी बोर्ड के अनुसार, 10वीं कक्षा में पास होने के लिए आपको कम से कम 33 अंक लाना आवश्यक होता है। 33 अंक प्राप्त करने पर ही आप पास माने जाएंगे।

राजस्थान बोर्ड 10वीं कक्षा पासिंग मार्क्स:

राजस्थान बोर्ड कक्षा 10 के छात्रों को पास करने के लिए कुछ नियम बनाए गए हैं, जिसमें छात्रों को कम से कम 33% अंक प्राप्त करना आवश्यक है।

बिहार बोर्ड दसवीं कक्षा के पासिंग मार्क्स:

बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा में छात्रों को पास होने के लिए कम से कम 33% अंक प्राप्त करना अनिवार्य है। हर विषय में 33% अंक प्राप्त करना आवश्यक है। जो छात्र दो या तीन विषयों में न्यूनतम पासिंग मार्क प्राप्त नहीं कर पाते हैं, उन्हें कंपार्टमेंट परीक्षा में भाग लेने का अवसर मिलता है। जबकि दो से अधिक विषयों में फेल होने वाले छात्रों को साल रिपीट करना होगा।

FAQ

Q. 10वीं में पासिंग मार्क्स कितने होते हैं?
उत्तर: सीबीएसई दसवीं की बोर्ड परीक्षा में पास होने के लिए छात्र को कम से कम 33% मार्क्स आना अनिवार्य है।

Q. 100 नम्बर के पेपर में कितने नम्बर से पास होते हैं?
उत्तर: 100 नंबर के पेपर में से 33 नंबर से पास होते हैं।

Q. बोर्ड परीक्षा में फेल होने पर क्या होता है?
उत्तर: जो छात्र मुख्य परीक्षा में एक या दो सब्जेक्ट में असफल हो जाते हैं, उन्हें कंपार्टमेंट दी जाती है ताकि वे अपनी परीक्षा उत्तीर्ण कर सकें।

Q. 12वीं में पास होने के लिए कितने नंबर चाहिए?
उत्तर: कम से कम 33% अंक लाने होंगे।

Q. कक्षा 12 में दो विषयों में फेल होने पर क्या होता है?
उत्तर: छात्र कंपार्टमेंट परीक्षा देकर पास हो सकते हैं।

Q. क्या मैं फेल होने के बाद कक्षा 12 में अपना विषय बदल सकता हूं?
उत्तर: हां, 12वीं कक्षा में फेल होने के बाद छात्र अपनी स्ट्रीम को बदल सकते हैं, उदाहरण के लिए साइंस से आर्ट में।

निष्कर्ष

हमने इस महत्वपूर्ण लेख में आपको बताया कि 10वीं की परीक्षा में पास होने के लिए कितने प्रतिशत अंक चाहिए। हमें आशा है कि आप इस लेख को पढ़कर जानकारी प्राप्त करेंगे और अपने अंकों में सुधार के लिए प्रयास करेंगे। अगर आपको यह जानकारी उपयोगी लगी हो तो कृपया नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *